मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

शुक्रवार, 8 मई 2015

Your brand should not just be a name but a close reflection of who you are


Driving under the influence of alcohol, without possession of a driving license, losing control and running the vehicle over homeless pedestrians, killing one, injuring several others, abandoning the site, and denying the moral responsibility of the whole act is NOT ‘Being Human’. Your brand should not just be a name but a close reflection of who you are. Hopefully the incident deters others from the horrendous & irresponsible act of drunk driving. ‪#‎Salmankhan‬ ‪#‎practicewhatyoupreach‬

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें