मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

मंगलवार, 4 फ़रवरी 2014

ताकि वर्ष २० बाद के भारतीय---475 वीं पोस्ट-पथिकअनजाना





ए मेरे परम प्रिय मित्रों चर्चा मंचों के ज्ञानियों
रचाना  सजना लिखना पढना सब बेमानी हैं
झांक, सेंक, फेंक, बेचना अर्थहीन कहानी हैं
विचारें हम बाद वर्ष २० हेतू क्या दे जा रहे
तलाशता रहा मंचों पर भविष्य बानियों को
शवपरीक्षण करते  मिले समूह ज्ञानियों के
खोजूं वे बानिये जो बाद वर्ष २० हेतू विचारें
जहाँ न चर्चित धर्म जाति उपनाम कभी हो
भाटों को, युद्धबर्बरता, इतिहास को न विचारे
प्राकृतिक रचनाओं से संग्रहित सीख ध्याये
इतिहास युद्ध प्यास,अंह-रास न चर्चा हो पायें
जानवरों के संस्करण मानव को मानव बनाये
चर्चा नही ठोस कदम, भरें ज्ञान नयी पौध में
हो जवां पौध जग अनुकरण करने लग जावे
बातें छोडें बाद वर्ष २० के भावी मानव जोडें
अतीत दफनाये भेदहीन इंसानी गुण अपनायें
ये पथनिर्माता नौनिहालो में नया ज्ञान फैलाये
विभाजकआधारी शासन को कही गहरा दफनाये
ताकि वर्ष २० बाद के भारतीय आदर्श कहलायें
पथिक अनजाना



1 टिप्पणी: