मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

गुरुवार, 5 जून 2014

शोरगुल के मामले में मुंबई अव्वल है दुनियाभर में

शोरगुल के मामले में मुंबई अव्वल है दुनियाभर में 

वह टेक्सीवाला भैया कितनी बड़ी बात कह गया था मुंबई की हवा -पानी -मिट्टी  के बारे में प्रदूषण के बारे में :यहां चार सौ रुपया रोज़ की दिहाड़ी है टैक्सी का भाड़ा काटके ,साथ में प्रदूषण है गाँव में आक्सीजन ही ऑक्सीजन पैसा नहीं है। 

यहां आने के बाद दो  महीने तो सब भला लगता है फिर सब बासी बासी। और उदासी। फलसफा कह गया था भैया। आज विश्वपर्यावरण दिवस पर उसकी बात दिमाग में बा -रहा कौंध रही है। पता चला है मुंबई  दुनिया का सबसे ज्यादा शोर -शराबे वाला महानगर है। यहां के निरंतर बने रहने वाले शोर से न सिर्फ हमारे कानों को ख़तरा बना रहता है हमारा दिल और दिमाग भी असरग्रस्त होता है। 

वायु प्रदूषण सेहत के लिए गंभीर ख़तरा बन रहा है। दिल का दौरा और मस्तिष्क आघात (ब्रेन अटैक ,आघात )इसी की सौगातें हैं। प्रदूषण का धुर स्तर कैंसर समूह के रोगों की भी वजह बनता है। 

जितना आप साफ़ वायु में सांस लेते हैं उतनी ही आपकी  जीवनप्रत्याशा ज्यादा रहती है। आप उम्र दराज़ होते हैं। 

दूसरे  छोर पर पानी के रास्ते (जल संदूषण )भारी धातु हमारे शरीर में दाखिल हो रहे हैं जो हार्ट अटैक और कैंसर समूह के रोगों की वजह बन रहे हैं। विस्तार से खुलासा करती है यह रिपोर्ट इस महानगरी के अपने स्वास्थ्य का :


‘Mumbai is noisiest city in the world’


MUMBAI: Mumbai is hostage to air and water pollution at dangerous levels, and is probably the noisiest city in the world, ahead of Delhi and Kolkata. Maharashtra's economic survey, released a day before World Environment Day (Thursday), paints a grim picture for the rest of the state as well. Of particular concern is growth in solid waste, which needs incineration, against a decline in waste that is recyclable or can be used as landfill. This is a threat to soil and groundwater.

"The data shows that the city is the noisiest in the world and poses a serious threat to one's ears, brain and heart. Almost every area in Mumbai has high sound levels. The administration should have the strong will to implement a stringent enforcement mechanism," said environmental activist Sumaira Abdulali.

Air pollution has serious health implications, including strokes and heart attacks, and in extreme cases lung cancer, said Dr Altaf Patel, former professor at J J Hospital and presently a director of medicine at Jaslok Hospital. "The more you breathe fresh air, the more is your life expectancy," he said. "As for water pollution, especially by heavy metals, it can lead to heart attacks and cancer, besides causing hypertension and mental disturbance."


• Noisy City. The Central Pollution Control Board has labeled Mumbai as the world’s noisiest city. Contributing factors include construction work and vehicular traffic. As per the Noise Pollution Regulation and Control Rules, the acceptable decibel limit for the day is 55 and 45 for the night, but most pneumatic drills used in foundation laying operate at 100db and cement mixers at 85db. [The Times of India]


Mumbai (Bombay) Photo
 
Wonderful Bombay pollution.
 
Sugar Cane Juice Stand.
 
If you can see the scaffolding on that building, it's bamboo.  People climb up those in the morn
 
Rickshaw
 
Dalit

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें