मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

रविवार, 23 मार्च 2014

सेहतनामा : (४ ) जागने ,चुस्त और चौकन्न बनाये रखने के लिए एपिल एक बेहतर विकल्प है चाय और कॉफी से

सेहतनामा 

(१)आपके पैरों में पांच लाख स्वेद ग्रंथियां मौज़ूद रहतीं हैं। जिनसे दिन 


भर में 

एक पिंट (लगभग आधा लीटर )भर पसीना निकल सकता है। पानी खूब 

पीजिये ताकि जल की आवश्यक मात्रा शरीर में बनी रहे फुट ऑडर आपके 

पास न फटके। 



(२ )१०० ग्राम प्याज में मात्र ४० केलोरी और नाममात्र को फ़ैट होता है 

जबकि यह  घुलनशील खाद्य रेशों से भरपूर है। 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
More images for onions


(३)पतले छरहरे लोग अपेक्षया कृत ज्यादा पैदल चलते हैं पतले दुबले बने 

रहिये पैदल चलते रहिये 

(४  ) जागने ,चुस्त और चौकन्न बनाये रखने के लिए एपिल एक बेहतर विकल्प है चाय और कॉफी से। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें