मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

शुक्रवार, 28 मार्च 2014

हमजोली छुड़वा सकते हैं खतरनाक बनती मीठे पेयों की लत

Pals can help teens cut back on sugary drinks

Pals can help teens cut back on sugary drinks

3 टिप्‍पणियां:

  1. ए३क मनोवैज्ञानिक प्रस्तुतीकरण !

    उत्तर देंहटाएं
  2. क्या बैल के आगे गाडी जोत रहे हैं.....सारे हमजोली भी वही कर रहे हैं तो कौन किसको क्या बताये....हमजोली बनते-बनाते भी तो समान विचार वाले हैं....आदत तो बड़े ही छुड़वा सकते हैं....खुद उदाहरण रख कर ..डान्ट-फटकार कर...

    उत्तर देंहटाएं