मित्रों!

आप सबके लिए “आपका ब्लॉग” तैयार है। यहाँ आप अपनी किसी भी विधा की कृति (जैसे- अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कर सकते हैं।

बस आपको मुझे मेरे ई-मेल roopchandrashastri@gmail.com पर एक मेल करना होगा। मैं आपको “आपका ब्लॉग” पर लेखक के रूप में आमन्त्रित कर दूँगा। आप मेल स्वीकार कीजिए और अपनी अकविता, संस्मरण, मुक्तक, छन्दबद्धरचना, गीत, ग़ज़ल, शालीनचित्र, यात्रासंस्मरण आदि प्रकाशित कीजिए।


समर्थक

मंगलवार, 22 अक्तूबर 2013

ऐसे ही भारत को सोने की चिड़िया नहीं कहा गया है - एक दिन शोभन सरकार ये भी बोलेंगे , अर्थव्यवस्था के झोल खोलेंगे, फिर एक दिन अपने "मोहन" को भी सोने से तौलेंगे।

उन्‍नाव में 1 हजार टन तो फतेहपुर है में ढाई हजार टन सोने का खजाना!




उत्‍तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से सटे उन्‍नाव जिले के डौंडिया खेड़ा 

गांव में 1 हजार टन सोना होने के दावे के बाद अब फतेहपुर जिले में ढ़ाई 

हजार टन सोना होने की 

खबर है। ये दावा भी स्‍वामी शोभन सरकार ने ही किया है। शोभन सरकार 

ने उन्नाव के अलावा फतेहपुर और कानपुर में भी सोने का खजाना होने 

की सूचना सरकार तक 

पहुंचाई है। फतेहपुर के भिटौरा ब्लॉक में गंगा के किनारे आदमपुर गांव 

है। बाबा की भविष्यवाणी के अनुसार, वहां मौजूद शिव मंदिर के पास के 

खंडहर में रीवा नरेश का काफी 

सोना दबा हुआ है। मालूम हो कि उन्‍नाव स्थित 19वीं शताब्दी के राजा 

राव रामबख्श सिंह के किले में एक हजार टन सोना होने की खबर के बाद 

से आर्कियोलॉजिकल सर्वे 

ऑफ इंडिया (एएसआई) की टीम खुदाई कर रही है।

 वहीं खबर ये भी है 


बाबा के सपने को सरकार के साथ ही साथ बदमाशों ने भी गंभीरता से 

लिया है और आदमपुर गांव में खुदाई शुरु कर दी है।

भाई साहब सोना निकलेगा या नहीं इस पे सटोरिये भी अब दाव लगायेंगे। 

अंग्रेज़ी का एक शब्द  प्रयोग है :"Pandora's box "जिसका मतलब होता 

है -

IN  GREEK  MYTHOLOGY ,THE JAR LATER REFERRED TO AS A BOX ,FROM WHICH PANDORA ALLOWED ALL THE WORLD'S EVILS TO ESCAPE .

एक और भी अर्थ है :

THE SOURCE OF A GREAT COLLECTION OF ILLS THAT NEED NOT BE FACED UNLESS AN UNWISE ACTION IS TAKEN .

मुहावरे में इसका प्रयोग कुछ यूं होगा -

IF YOU CRITICIZE HER (GOVT OF INDIA )WORK ,YOU 

WILL BE OPENING A REAL PANDORA'S BOX .



 उल्‍लेखनीय है कि किले में करीब 3 फीट खुदाई के 

बाद एक दीवार नजर आया है और एएसआई को उम्‍मीद है कि इस दीवार 

के पार सोने का खजाना 

मिल सकता है। मालूम हो कि खुदाई जब शुरु हुई थी उस वक्‍त 

आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया की टीम को कोई उम्‍मीद नहीं थी

दुनिया भर की निगाहें उन्नाव के डौंडियाखेड़ा गांव पर टिकी हैं, जहां कथित खजाने की खुदाई 

जारी है। आपके मन में भी सवाल होगा कि सोना निकलेगा या नहीं?

इब्तिदाए इश्क है रोता है क्या ,

आगे आगे देखी होता है क्या। 

 लेकिन कुछ शरारती तत्व इसका फायदा उठाने में जुट गए हैं। यकीन न हो तो बस एक फोन कॉल का इंतजार कीजिए जो कभी भी आपके मोबाइल पर आ सकती है। अब तक दिल्ली में रहने वाले बहुत से लोगों के पास ऐसी कॉल्स आ चुकी हैं कि कुछ राज्यों के ऐतिहासिक स्थलों पर खुदाई में सोने का भंडार निकल चुका है।

दीपावली से पहले कुबेर का खजाना, लक्ष्मी की कृपा बरसाने वाले कॉलर दावा कर रहे हैं सोने का खजाना खुदाई में निकल आया है। अगर आपको खरीदना है तो आधी कीमत पर किलो, दो किलो, पांच किलो तक मिल जाएगा। भरोसा न हो तो खुदाई के सोने में से एक ग्राम सोने का टुकड़ा आपको टेस्टिंग के लिए दिया जाएगा। आप चाहें तो अपने सुनार से टेस्ट करा लें। सुनार कह दे तो आधी कीमत पर सोना खरीदने का ऑफर है, मगर यह सब गुपचुप तरीके से सौदेबाजी होगी। वजह बताई जा रही है कि कहीं पुलिस या सरकार को पता चल गया तो वे अपने कब्जे में ले लेंगे।

इस तरह की कॉल सुनकर अच्छे अच्छों का लालच बढ़ना लाजिमी है। एक मल्टिनैशनल कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के पास दो दिन में चार बार कॉल आ चुकी है। दावा किया है कि मथुरा में खुदाई के दौरान सोना निकला है, अगर आप खरीदना चाहें तो मथुरा आ जाएं। इंजीनियर ने जब पूछा कि आपको मेरा नंबर कैसे मिला तो जवाब मिला कि आपके जानकार ने दिया है। कॉलर ने दावा किया कि अगर भरोसा न हो तो कुछ टुकड़ा टेस्ट कराने को देंगे। यकीन हो जाए तो मार्केट से आधी कीमत पर मिल जाएगा।

दीपावली से पहले लक्ष्मी कृपा के ख्याल इंजीनियर के मन में आने लगे। मन भी डांवाडोल हुआ। कॉलर भी भांप गया कि सुनने वाला तैयार है। इंजीनियर के पास अब तक चार बार उसकी तरफ से कॉल आ चुकी है। उसने आखिरकार अपने परिवार और कुछ जानकारों से विचार-विमर्श किया। कुछ इसी तरह की कॉल मंडावली में रहने वाले एक शख्स के मोबाइल पर आज सुबह आई। मगर यहां कॉल करने वाले ने जयपुर में खुदाई के दौरान सोने का भंडार निकलने का दावा किया है। सोने का ऑफर 5 किलो तक खरीदने का है, वह भी आधी कीमत पर।

इस तरह की कॉल के बारे में जब एक सीनियर पुलिस अफसर से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्नाव के डौंडियाखेड़ा गांव में चल रही खुदाई से लोगों में खजाने का खुमार चढ़ा है। माहौल को भांप कर ठग भी सक्रिय हैं। वह इस तरह की अलग-अलग सैकड़ों कॉल करके शिकार की तलाश में हैं। सैकड़ों कॉल में एक-दो जाल में फंस ही जाते हैं। जो जागरूक हैं वह इग्नोर कर देते हैं, जो लालच करते हैं वह इनके झांसे में आकर अपनी गाढ़ी कमाई गंवा बैठते हैं। उन्होंने लोगों से इस तरह के प्रलोभन में न फंसने की अपील की है।

 As the treasure hunt on the basis of a seer's dream entered 

the fourth day, the Supreme Court today refused to interfere 

in the 

excavation by archaeologists in Uttar Pradesh's Unnao 

district. Ending speculation that the excavation by 

Archaeological Survey of 

India (ASI) for 1,000 tonnes of gold supposed to be buried 

under the ruins of a 19th century fort is being halted, the 

district 

administration resumed the digging work.

ऐसे ही भारत को सोने की चिड़िया नहीं कहा  गया है -

एक दिन शोभन सरकार ये भी बोलेंगे ,

अर्थव्यवस्था के झोल खोलेंगे, 


फिर एक दिन अपने "मोहन" को भी सोने से तौलेंगे। 

ये सब चुनाव २०१४ से ध्यान हटाने के हथकंडे हैं कोंग्रेस ही हार सुनिश्चित है उसने मान लिया है अब संत ही 

अर्थ व्यवस्था को दोबारा पटरी पर ला सकते हैं सोने की लंका भी खोजी जाएगा ये तो बित्ता सा खजाना है 

भाई।

और भाई साहब जब एक चैनल दिन रात पुरानी चीज़ें ही ढूंढता रहता है मसलन कभी उसे कभी हनुमान का 

गदा  मिलता है कभी शिव जी का टूटा हुआ धनुष और कभी रामचरितमानस में वर्णित स्वर्ण मृग (मारीच 

) फिर 

भारत सरकार सोने का खजाना क्यों न खोजे-

अफ़सोस बस इस बात का है :

असली सरकार है शोभन सरकार ,

ये तो ठहरी रिमोटिया सरकार।





4 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बृहस्पतिवार (24-10-2013)
    "प्याज का अथाह भँडार है" चर्चा - 1408 में "मयंक का कोना"
    पर भी होगी!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  2. जाने ये क्या हो रहा, सपने पर इतबार ।
    मर्यादा स्वाहा हुई, जीता धुवाँ-गुबार ।
    जीता धुवाँ गुबार, खुदाई चालू आहे ।
    रही हिलोरें मार, निकम्मी रविकर चाहें ।
    बाबा तांत्रिक ढोंग, लगे फिर रंग जमाने ।
    होय हाथ में खाज, खोजते लोग खजाने ॥

    उत्तर देंहटाएं
  3. गंडा बाँधे फूँक कर, थू थू कर ताबीज |
    गड़ा खजाना खोद के, रहे हाथ सब मींज |

    रहे हाथ सब मींज, मरी चुहिया इक निकली |
    करे मीडिया मौज, उड़ा के ख़बरें छिछली |

    रकम हुई बरबाद, निकलते दो ठो हंडा |
    इक तो भ्रष्टाचार, दूसरा प्रोपेगंडा |

    उत्तर देंहटाएं